दाद के प्रकार (फंगल इनफेक्शन/ रिंगवर्म )लक्षण ,कारण, बचाव (in hindi)

पोस्ट शेयर करे

दाद के प्रकार (फंगल इनफेक्शन रिंगवर्म )लक्षण ,कारण, बचाव (in hindi)दाद के प्रकार – दाद ( रिंगवर्म )एक प्रकार का स्किन पर होने वाला फंगल इंफेक्शन होता है,जो कि यह एक वृत्ताकार यानी कि राउंड शेप होता है और छोटे छोटे दाने हो जाते हैं |यह बहुत ज्यादा खुजली पैदा करते हैं | खुजली करने से आपको आराम मिल सकता है, लेकिन आप जितना खुजा लेंगे यह फंगल इनफेक्शन उतना उतना ही बढ़ता जाएगा |

यह भी पढ़े – मुंह के छालों ( mouth ulcer ) के 13 कारण ,15 घरेलू उपचार

रिंगवर्म को हम मेडिकल की भाषा में डर्मेटोफाइटोसिस कहते हैं ,या फिर हम इसे टीनिया का इनफेक्शन भी बोलते हैं |टीनिया एक प्रकार की फंगस होती है, जो कि हमारे स्किन पर होती है |रिंगवॉर्म नाम एक गलत नाम है, क्योंकि रिंगवार्म एक fungas  के कारण होता है, न कि worm (कीड़ा) के द्वारा | यह फंगस त्वचा, बालों और नाखूनों में पाया जाने वाला प्रोटीन और केराटिन खाता है।

यह भी पढ़े – मुहांसे / पिम्पल कैसे हटाये -10 जबरदस्त आसान घरेलु उपाय

दाद संक्रमण (infection) मनुष्यों और जानवरों दोनों को प्रभावित कर सकता है। इनफेक्शन शुरू में त्वचा के प्रभावित क्षेत्रों पर लाल पैच के साथ होता है |और बाद में शरीर के अन्य हिस्सों में फैलता है। इनफेक्शन खोपड़ी, पैर, ग्रोइन, दाढ़ी, या अन्य क्षेत्रों की त्वचा को प्रभावित कर सकता है।आज हम इस पोस्ट में जानेंगे की दाद के प्रकार कितने है |

तीन अलग-अलग प्रकार के फंगस इस इन्फेक्शन का कारण बन सकते हैं। उन्हें ट्राइकोफीटन, माइक्रोस्कोपम, और एपिडर्मोफीटन कहा जाता है।यह फंगस केवल मानव त्वचा, बाल, या नाखूनों पर रहते हैं। अन्य जानवरों पर रहते हैं और कभी-कभी कभी-कभी मानव त्वचा पर पाए जाते हैं। फिर भी अन्य मिट्टी में रहते हैं। किसी विशेष व्यक्ति की त्वचा फंगस के स्रोत की पहचान करना अक्सर मुश्किल या असंभव होता है।फंगस-

  •  व्यक्ति से व्यक्ति (एंथ्रोपोफिलिक),
  • पशु से व्यक्ति (ज़ोफिलिक), या
  • मिट्टी से एक व्यक्ति (भू-भौतिक) तक फैल सकता है।

हमने जाना की दाद क्या है और कैसे फैलता है अब हम ये जानते है,की दाद के प्रकार (फंगल इनफेक्शन/ रिंगवर्म ) कितने होते है |

यह भी पढ़े – Jock itch ( दाद / ringworm )के कारण,उपाय,लक्षण,बचाव

दाद के प्रकार (फंगल इनफेक्शन/ रिंगवर्म )

1) Tinea capitis (Ringworm of the scalp)

  • दाद के प्रकार में पहला है Tinea capitis ,खोपड़ी (scalp) में होने वाला दाद( रिंगवर्म ) है |
  • यह दाद( रिंगवर्म ) अक्सर बच्चों में  होने वाला है |लेकिन वयस्क भी इसे प्राप्त कर सकते हैं।
  • 3 और 7 साल की उम्र के बच्चों में टिनिया कैपिटिस सबसे आम है, और वयस्कों में अक्सर कम पाया जाता है।
  • यह अक्सर छोटे घाव के रूप में शुरू होता है|
  • लक्षणों में खुजली, त्वचा पर गोल स्केली स्पॉट, और छोटे काले बिंदु होते हैं |
  • जहां से बाल के टुकड़े टूट जाते हैं।उसके बाद खुजली ,गोल गोल पैच बनना शुरू होते हैं |
  • जब आपको ये लक्षण मिलते हैं, तो तुरंत अपने डॉक्टर से संपर्क करें |

2) Tinea corporis (Ringworm of the body)

  • Tinea corporis, बॉडी पर होने वाला इनफेक्शन है |और यह इनफेक्शन सबसे आम इनफेक्शन है |
  • बॉडी में मुख्य रूप से धड़, बाहों और पैरों को प्रभावित करता है |
  • अक्सर इस में अंगूठी के आकार के पैच  दिखाई देते हैं |
  • लक्षणों में गोलाकार, लाल धब्बे शामिल हैं ,जो खुजली के साथ आ सकते हैं।
  • कभी-कभी, धब्बे में छाले की तरह घाव हो सकते हैं, या बालों के रोम में दिखाई दे सकते हैं |
  • यद्यपि बच्चे विशेष रूप से रिंगवॉर्म को पकड़ने के लिए अतिसंवेदनशील होते हैं |
  • लेकिन यह वयस्कों को भी प्रभावित कर सकता है।
  • Tinea corporis तीव्र या पुरानी हो सकती है।
  • जब तीव्र हो, फंगस अचानक प्रकट होता है, खुजली, लाल पैच जो पुस से भर सकते हैं और तेजी से फैल सकते हैं।
  • जब पुरानी हो जाती है, तो Tinea corporis  थोड़ा सूजन वाले चकत्ते से धीरे-धीरे फैलता है, 
  • व्यापक पुरानी Tinea corporis का इलाज करना कठिन होता है और फिर से दिखने की संभावना अधिक होती है।
  • उपचार के साथ,Tinea corporis आमतौर पर चार सप्ताह के भीतर चला जाता है।
  • खरोंच से बचें, क्योंकि इससे स्किन इनफेक्शन हो सकता है।

3) Tinea cruris (jock itch)

  • Tinea cruris को हम jock itch के नाम से भी जानते हैं |
  • यह इनफेक्शन groin area ,thigh area और buttocks पर होता है |
  • शारीरिक मेहनत करने वालों जैसे खिलाड़ियों में सबसे ज्यादा आम है |
  • इसके अलावा यह पुरुषों और किशोर लड़कों में सबसे आम है।
  • आमतौर पर लाल भूरे रंग के चकत्ते के रूप में प्रकट होता है |

4) Tinea pedis (Athlete’s foot)

  • Tinea pedis को Athlete’s foot भी कहते हैं |
  • यह उन लोगों में अक्सर देखा जाता है, जो सार्वजनिक स्थानों पर नंगे पैर जाते हैं  |
  • जहां संक्रमण फैल सकता है, जैसे लॉकर रूम, शावर और स्विमिंग पूल
  • यह इनफेक्शन बच्चों में दिखाई दे सकता है,
  • पैर पर रिंगवार्म कई अलग-अलग प्रकार के लक्षणों के साथ प्रकट हो सकता है
  • लेकिन मनोरंजन या खेल गतिविधियों में भाग लेने वाले वयस्कों मैं यह अधिक आम है |
  • यह आर्द्र वातावरण में उगता है, और जिनके पैर अत्यधिक पसीने से पीड़ित होते हैं |

5) Tinea Barbae (Ringworm of the Bread)

  • Tinea Barbae ,दाढ़ी के आसपास की त्वचा पर जाने वाला इनफेक्शन है |
  • barbae चेहरे और गर्दन के दाढ़ी वाले क्षेत्र की अंगूठी, सूजन के साथ अक्सर खुजली के साथ होता है,
  • यह इनफेक्शन Trichophyton, mentagrophytes or T. verrucosum (मवेशियों से), होता है|
  • जानवरों के साथ लगातार उनके संपर्क के कारण किसान आमतौर पर इस प्रकार से प्रभावित होते हैं।
  • इसके अलावा पुरुष ,किशोरावस्था और वयस्कों  मे संक्रमण पाया जाता है |
  • लक्षणों में लाल, चेहरे के बाल के चारों ओर क्रस्टिंग शामिल हैं।

6) Tinea Manuum (Ringworm of the Hand)

  • Tinea Manuum हाथों पर पाया जाने वाला फंगल इंफेक्शन है |
  • यह आमतौर पर एक छोटे पैच के रूप में शुरू होता है और धीरे-धीरे बड़ा हो जाता है।
  • कोई भी Tinea Manuum  से प्रभावित हो सकता है।
  • Tinea Manuum या तो मिट्टी, जानवरों या मानव संपर्क के माध्यम से मानव हाथों पर अपना रास्ता बनाता है।
  • रिंगवार्म का यह रूप काफी असामान्य है |

7)  Tinea Versicolor

  • दाद के प्रकार में 7वा प्रकार है  Tinea Versicolor
  • त्वचा का एक आम फंगल संक्रमण है ,जो अक्सर किशोरावस्था और युवा वयस्कों को प्रभावित करता है।
  • कंधे, पीठ और छाती को प्रभावित करने वाले सबसे आम क्षेत्र हैं।

8) Tinea incognito

  • यह प्रकार केवल तभी होता है, जब पूर्व टिनिया की उपस्थिति बदल जाती है |
  • यह  इन्फेक्शन आमतौर पर स्टेरॉयड क्रीम द्वारा  होता है
  • इसीलिए फंगल इनफेक्शन होने पर स्टेरॉइड क्रीम का यूज़ करने से बचें |
  • इसकी जगह एंटीफंगल क्रीम का यूज़ करें |

9) Tinea Unguium

  • Tinea Unguium आमतौर पर दो फंगस में से एक के कारण होता है |
  • ट्राइकोफीटन रूब्रम या टी Interdigitale।
  • यद्यपि Tinea Unguium नाखूनों या toenails के फंगल संक्रमण का उल्लेख कर सकते हैं,
  • उनमें पुरुष, वृद्ध वयस्क, मधुमेह शामिल है |
  • इसके लक्षण में पीला, भूरा, नाज़ुक नाखून,मोटी नाखून, और नाखून जिनमें अनियमित आकार होता है।

10) Tinea Faciei

  • दाद के प्रकार में 10वा है Tinea Faciei 
  • Tinea Faciei चेहरे पर रिंगवर्म इनफेक्शन को संदर्भित करता है।
  • यह एक असामान्य संक्रमण है,
  • और यह कई स्रोतों के संपर्क से उत्पन्न हो सकता है|

दाद (फंगल इन्फेक्शन ) से बचाव :

दाद (फंगल इनफेक्शन / रिंगवर्म ) से बचने के लिए आपको कुछ निम्न सावधानियां रखनी बहुत जरूरी है |दाद कभी भी किसी को भी हो सकता है इसलिए आपको कुछ बातों का ध्यान रखना बेहद जरूरी है |अगर आपको फंगल इंफेक्शन हो गया है ,तो

  • दाद होने पर या किसी भी प्रकार की खुजली होने पर आप docter को जरुर दिखाए |
  • दाद इन्फेक्शन होने पर सबसे पहले तो आप दिन में दो बार नहाये |
  • जहां पर भी आपको दाद का इनफेक्शन है वहां पर हमेशा सूखा रखें |
  • नहाने के बाद उस जगह को अच्छे साफ टॉवल से साफ कर सुखा लेना चाहिए |
  • अपना साबुन ,टॉवल कंघा  दूसरे व्यक्ति के साथ शेयर नहीं करना चाहिए |
  • फंगल इन्फेक्शन होने वाली जहां पर डस्टिंग पाउडर का इस्तेमाल करना चाहिए |
  • फंगल इन्फेक्शन वाली जगह को  धूप से बचाना चाहिए |
  • अपने कपड़े टॉवेल और बेडशीट को गर्म पानी से धोना चाहिए और साथ ही साथ उन्हें धूप में ही सुखना चाहिए|
  • फंगल इन्फेक्शन होने पर सिंथेटिक कपड़े नहीं पहनना चाहिए हमेशा प्योर कॉटन के कपड़े पहनना चाहिए |
  • अपने अंडर गारमेंट्स को रोज बदलना चाहिए |
  • दाद (फंगल इन्फेक्शन) होने पर गर्म पानी से नहीं नहाना चाहिए हमेशा हल्के गुनगुने पानी का इस्तेमाल करें |
  • फंगल इन्फेक्शन होने पर स्टेरॉयड क्रीम का यूज़ बिल्कुल ना करें इस के लिए एंटी फंगल क्रीम का इस्तेमाल करें |
  • अपने मन से या किसी भी व्यक्ति के कहने से कोई भी क्रीम या दवाई का सेवन न करे |
Review Summary
Review Date
Reviewed Item
Article
Rating
51star1star1star1star1star
पोस्ट शेयर करे

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *