घुटनों और जोड़ो में दर्द के 11 जबरदस्त घरेलु उपाय (in Hindi)

पोस्ट शेयर करे

घुटनों और जोड़ो में दर्द के 11 जबरदस्त घरेलु उपायघुटनों और जोड़ो में दर्द : आजकल घुटनों और जोड़ो में दर्द भी एक आम समस्या बन चुका है| चाहे बुजुर्ग हो या फिर बड़ा घुटनों में दर्द से हर कोई परेशान है| जब भी किसी के घुटनों में दर्द होता है तो ना जाने कितनी दवाइयां खा लेते हैं  पर उनका असर कुछ समय तक ही रहता है|इसीलिए ज्यादा दवाओं का सेवन भी आपके लिए खतरनाक है| घुटनों का दर्द कभी-कभी तो इतना बढ़ जाता है कि चलने फिरने में बहुत परेशानी होती है|और साथ ही घुटनों को मोड़ने में, उठने – बैठने में भी दिक्कत आती है |कई बार ये दर्द इतना असहनीय होता है ,की व्यक्ति का बुरा हाल हो जाता है।अगर आपके घुटनो में दर्द रहता है ,तो सही समय पर इसकी जाँच करवाना जरुरी है|

गठिया एक लंबे समय तक चलने वाली जोड़ों की स्थिति होती है जिससे आमतौर पर शरीर के भार को वहन करने वाले जोड़ जैसे घुटने, कूल्हे, रीढ़ की हड्डी तथा पैर प्रभावित होते हैं। इसके कारण जोड़ों में काफी अधिक दर्द, अकड़न होती है और जोड़ों की गतिविधि सीमित हो जाती है। घुटनों का दर्द काफी हद तक लाइफ स्टाइल की देन है। यदि लाइफ स्टाइल और खानपान को हेल्दी नहीं बनाया तो यह समस्या और भी गंभीर हो सकती है। घुटने पूरे शरीर का बोझ सहन करते हैं। इन्हें बचाने का तरीका हेल्दी लाइफ स्टाइल, एक्सरसाइज और हैल्दी खानपान लेना बहुत जरूरी है|

यह भी पढ़े – मोटापा कैसे कम करें -10 घरेलु उपाय  

इस आर्टिकल में हम आपको घुटनों और जोड़ो में दर्द से बचने के लिए कुछ आसान से घरेलू उपायों के बारे में बताएंगे जिन्हें अपनाकर आप इस दर्द से बच सकते हैं|लेकिन सबसे पहले हम घुटनों में या जोड़ों में दर्द क्यों होता है इसके क्या कारण है इनके बारे में बताएंगे क्योंकि जब तक हम कारण नहीं पहचानेंगे तब तक कैसे कोई भी इलाज कर सकते हैं तो आइए जानते हैं-

घुटनों और जोड़ों में दर्द का कारण-

घुटनों और जोड़ों में दर्द का केवल एक कारण नहीं है बल्कि इसके बहुत सारे कारण होते हैं|

  1. अगर आपका वजन ज्यादा है तो आपके घुटनों में दर्द हो सकता है|
  2. जंक फूड का सेवन भी घुटनों में दर्द पैदा करता है|
  3. पानी कम पीना भी घुटनों में दर्द देता है|
  4. शरीर में कैल्शियम की कमी होना भी घुटनों में दर्द का एक कारण है|
  5. जोड़ों में किसी प्रकार की सूजन होने से भी घुटनों में दर्द होने लगता है|
  6. उम्र का बढ़ना भी घुटनों में दर्द का एक कारण है|
  7. पाचन की गड़बड़ियों के कारण भी हड्डियां कमजोर होती है|
  8. जोड़ों में किसी प्रकार की चोट लगने से जो घुटनों में दर्द हो सकता है|
  9. हड्डियों का कमजोर होना भी घुटनों में दर्द का कारण है|
  10. गठिया रोग के कारण में घुटनों में दर्द हो सकता है|
  11. एक्सरसाइज की कमी ,अनहेल्दी लाइफस्टाइल के कारण भी घुटनों में दर्द हो सकता है|
  12. अगर आपको घुटनों या जोड़ों से संबंधित कोई बीमारी जैसे -ऑस्टियोपोरोसिस ,गठिया, रूमेटाइड अर्थराइटिस ,गाउट है तो आपके घुटनों में दर्द होता है|
  13. महिलाओं में मीनोपॉज घुटनों में दर्द पैदा करता है |
  14. बहुत देर तक खड़े होकर काम करना या फिर बहुत देर तक बैठकर काम करना भी घुटनों में दर्द और जोड़ों में दर्द का कारण है|
  15. अधिक से अधिक दवाइयों का सेवन भी घुटनों और जोड़ों में दर्द का कारण बनता है |
  16. विटामिन डी की कमी जोड़ों और घुटनों में दर्द पैदा करता है|

घुटनों और जोड़ो में दर्द से बचने के घरेलू उपाय:

1)अजवाइन अदरक और लहसुन:

एक चम्मच अजवाइन , एक चम्मच अदरक और ताजा लहसुन इन सबको मिलाकर 200 मिलीलीटर तिल के तेल में पकाएं  इस तेल को धीमी आंच पर पकाना है| और जब इसका कलर बदलने लगे तो गैस बंद कर दें और इसे ठंडा होने के लिए छोड़ दें |ठंडा होने पर इसे छानकर एक बोतल में भर ले|  इस तेल से आपको मालिश करनी है |अगर डायबिटीज के कारण भी आपको घुटनों में या जोड़ों में दर्द हो रहा है ,तो यह तेल आपको बहुत राहत दिलाएगा |

2)विटामिन E:

विटामिन E जोड़ों के दर्द के लिए बहुत फायदेमंद होता है |खासतौर पर बादाम में पाया जाने वाला ओमेगा 3 फैटी एसिड सूजन और गठिया के लक्षणों को कम करने में मददगार होता है |बादाम के अलावा मछली और मूंगफली में भी पर्याप्त मात्रा में ओमेगा 3 फैटी एसिड पाया जाता है|

3)मेथी ,हल्दी ,सौंफ:

आपको अगर आपको जोड़ों में दर्द ,सूजन ,हड्डियों से आवाज आना अकड़ाहट  या फिर करवट लेते समय दर्द होना, थकान, कमजोरी ,जोड़ों में जलन होने लगी तो आप मेथी, सौंफ और हल्दी तीनों को बराबर बराबर मात्रा में लेकर चूर्ण बनाना है और रोजाना सुबह शाम एक एक चम्मच गर्म पानी के साथ या दूध के साथ लेना है | इससे आपको बहुत जल्दी आराम आने लगेगा |

 4)आक के पत्ते:

घुटने के दर्द को ठीक करने के लिए याशरीर के किसी भी हिस्से में चोट लगने पर आक के पत्तों को गर्म करके बांध लें। सबसे पहले दर्द वाले स्थान पर तेल लगा लें। फिर इसके बाद आक के पत्तों को गर्म करके उस स्थान पर रखें और इसके ऊपर से रुई रखकर लाल कपड़े की पट्टी बांध लें। इससे कुछ ही दिनों में घुटनों में दर्द और सूजन ठीक हो जाता है।

5) विटामिन डी:

अगर आपको विटामिन डी की कमी है तो आपके घुटनों और जोड़ो में दर्द हो सकता है| इसीलिए विटामिन डी का सबसे अच्छा स्रोत सूरज से उत्पन धुप है , जिससे आपको नेचुरल विटामिन डी मिलती है ,जो हड्डी के लिए अधिक लाभदायक है इसीलिए आपको कम से कम आधा घंटा सूरज की धूप जरूर लेना है इससे आपकी हड्डियां मजबूत होगी|और घुटनों के दर्द से आराम मिलेगा |

6) लहसुन का सेवन:

लहसुन के सेवन से घुटनों और जोड़ो में दर्द में काफी आराम मिलता है | प्याज और लहसुन में कई ऐसे तत्व पाए जाते हैं जो जोड़ों के दर्द में फायदेमंद होते हैं | इनके नियमित सेवन से  घुटनों और जोड़ों के दर्द की शिकायत होने का खतरा काफी कम हो जाता है |लहसुन रात को पानी में भिगोकर सुबह उठकर छोटे-छोटे टुकड़े करके खाना है |

7) तिल का सेवन:

हड्डियों को मजबूत बनाने के लिए आप सफेद तिल को रोस्ट करके रोजाना सुबह सुबह खाएं इससे आपकी हड्डियां मजबूत होगी इसके साथ-साथ आप दूध ,दही ,पनीर ,सोयाबीन का सेवन करें और तिल के तेल की मालिश भी करें|इसके अलावा मजबूत हड्डियों के लिए आप पाइनापल का सेवन भी जरूर करें|

8) व्यायाम भी जरूरी:

घुटनों और जोड़ो में दर्द से बचने के लिए व्यायाम भी बहुत जरूरी है इसीलिए आपको रोजाना सुबह आधा घंटा व्यायाम तो करना ही चाहिए इससे आपका शरीर एकदम स्वस्थ रहता है और आप किसी भी प्रकार की बीमारी की चपेट में नहीं आते हैं घुटनों और जोड़ों के दर्द से बचने के लिए आप अनुलोम विलोम, कपालभाति ,भस्त्रिका प्रणायाम,ताड़ासन ,पादहस्तासन, त्रिकोणासन प्राणायाम कर सकते हैं |

9) हल्दी:

हल्दी में भी एंटी बायोटिक, एंटी बैक्टीरियल, एंटीफंगल और एंटी इंफ्लेमेट्री गुण होते हैं। हल्दी में करक्यूमिन नामक तत्व होता है, बीमारी फैलने वाले बैक्टिरियां को खत्म करने का काम करता है। अर्थराइटिस  यानी जोड़ों और मांसपेशियों में दर्द के मरीजों को हल्दी का सेवन जरूर करना चाहिए। इसको खाने से ना केवल दर्द से राहत मिलती है। बल्कि रोग-प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है।

10)अलसी के बीज:

अलसी घुटनों और जोड़ो में दर्द में बहुत लाभदायक होता है क्योंकि इसमें एंटी बैकटिरियल, एंटी फंगल और एंटी वायरल होते है जिनका इस्तेमाल करने से आपकी रोगप्रतिरोधक-क्षमता बढाती है।अलसी जोड़ों की हर तकलीफ पर असरदार है। इसे खाने से खून पतला हो जाता है, जिसकी वजह से पैरों में रक्त का प्रवाह सही ढंग से होता है और दर्द जैसी समस्याएँ दूर हो जाती हैं। जोड़ों के दर्द के लिए अलसी के बीजों का चूर्ण बनाकर सेवन करना है और साथ ही साथ अलसी के तेल की मालिश भी आप कर सकते हैं

11)एलोवेरा जूस:

घुटनों और जोड़ो में दर्द में एलोवेरा जूस में काफी फायदेमंद होता है |लेकिन आपको यह पता होना चाहिए कि एलोवेरा जूस को हम कैसे इस्तेमाल करते हैं ,क्योंकि सही इस्तेमाल ही आपको इस दर्द से छुटकारा दिलाएगा| एलोवेरा जूस को एक साथ ज्यादा मात्रा में नहीं लेते हैं क्योंकि यह पचने में दिक्कत देता है| इसीलिए आपको शुरुआत चार चम्मच से करनी है फिर धीरे-धीरे इसकी मात्रा बढ़ा कर 100ml तक करनी है इसमें आप एक चुटकी हल्दी पाउडर मिलाकर खाली पेट इसका सेवन करना है यह उपाय बहुत ही कारगर है|

यह भी पढ़े – एसिडिटी व पेट में जलन के उपाय,कारण,लक्षण और बचाव

घुटनों और जोड़ों में दर्द से बचने के लिए कुछ सावधानियां:

  1. घुटनों के दर्द से पीड़त रोगी को कभी भी किसी प्रकार की खटाई, अचार, छाछ, दही, टमाटर तथा पेट में गैस बनाने वाले पदार्थो को नहीं खाना चाहिए।
  2. जिन लोगों का वजन ज्यादा है सबसे पहले वह अपना वजन कंट्रोल में रखें |
  3. घुटने के दर्द से पीड़ित रोगी को मैदे व बेसन से बनी चीजों का सेवन नहीं करना चाहिए।
  4. घुटने के दर्द से पीड़ित रोगी को जंक फूड या तली-भुनी चीजों का सेवन नहीं करना चाहिए।
  5. इस रोग से पीड़ित रोगी को ठंडे पदार्थों जैसे- कोल्डड्रिंक, आइसक्रीम, बर्फ का पानी आदि का सेवन नहीं करना  चाहिए |
  6. रात के समय चना, भिंडी, अरबी, आलू, मूली, दही राजमा इत्यादि का सेवन भूलकर भी नहीं करें |
  7. पूरे दिन भर में कम से कम 12 गिलास तक पानी अवश्य पिए। कम मात्रा में पानी पीने से भी घुटनों में दर्द बढ़ जाता है।
  8. खाने में कैल्शियम वाला भोजन सही मात्रा में लें, सब्जियाँ जरूर खायें, फैट और चीनी से परहेज करें |
  9. रोजाना दूध का सेवन करें दूध में कैल्शियम होता है|
  10. अगर आपके घुटनों में ज्यादा ही दर्द हो रहा है तो आपको डॉक्टर से चेकअप करवाना चाहिए |
  11. हड्डियों की कमजोरी पुरुषों की तुलना में महिलाओं में अधिक होती है इसीलिए महिलाओं को अपनी डाइट में कैल्शियम प्रोटीन और विटामिन डी का सेवन जरूर करना चाहिए |
  12. पाचन की गड़बड़ियों के कारण भी हड्डियां कमजोर होती है इसीलिए अपना पेट पूरी तरह साफ रखें |
  13. पौष्टिक भोजन खाएं खाने में हरी सब्जियां, फल ,सलाद, प्रोटीन जरूर शामिल करें| और रोजाना व्यायाम करें |
Review Summary
Review Date
Reviewed Item
Article
Rating
51star1star1star1star1star
पोस्ट शेयर करे

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *